हरिद्वार ( अरुण कश्यप ) : हरिद्वार का सिंचाई खंड पहले ही अपनी निर्माण कार्यशैली की वजह से अक्सर सुर्खियों में रहता है । लेकिन आजकल सिंचाई खंड का कार्यालय अलग मुद्दे को लेकर सुर्खियों में है। मायापुर स्थित सिंचाई खंड कार्यालय में पीएम मोदी के स्वच्छ भारत मिशन को कई हफ्तों से पलीता लगाया जा रहा है। लेकिन इसे लेकर अधिकारी भी बड़े लापरवाह नजर आ रहे हैं।

सिंचाई खंड के अधिशाषी अभियंता कार्यालय में डिप्टी राजस्व अधिकारी कुलदीप रावत का कक्ष है, लेकिन कक्ष में पिछले कई हफ्तों से दरवाजे पर कुंडी लगी हुई है। जिसकी वजह जानकार आप भी हैरान हो जाएंगे। दरवाजे पर बकायदा सूचना चस्पा की गई है। जिसमें ये लिखा गया है कि दरवाजा गंदगी की वजह से बंद है। वहीं जरुरी विभागीय कार्य करने के लिए वैकल्पिक रास्ते के रूप में दूसरी ओर से कई कमरों से होता हुआ रास्ता बनाया गया है।

इस बंद दरवाजे के बाहर की गंदगी देखकर यकीनन आपको भी  यहां की सफाई व्यवस्था पर तरस आ जाएगा। दरअसल इस दरवाजे के ठीक बाहर सीवर लाइन का एक पाइप जाता है। जो किसी वजह से पिछले कई हफ्ते से लीक हो रहा है। ऐसे में यहां गंदे पानी का फुव्वारा फूट पड़ा है, जिसके चलते आसपास गंदगी जमा हो गई है। तो वहीं बदबू ने लोगों का जीना दुभर दिया है। सीवर लाइन का ये दूषित पानी कई तरह की बीमारियों को भी न्योता दे रहा है। लेकर सिंचाई विभाग के अधिकारी हैं की गहरी नींद में सोए हुए हैं।