दुःखद…पौड़ी का एक और लाल सीमा पर शहीद, मई में होनी थी शादी

देहरादून (संवाददाता): उत्तराखंड का एक और लाल सीमा पर अपना फर्ज निभाते हुए शहीद हुआ है। जानकारी के अनुसार पौड़ी जनपद के द्वारीखाल ब्लॉक निवासी राइफलमैन अनिल चौहान को सीमा पर गोली लगी थी, इसके बाद वह देश के लिए शहीद हो गए।

आपको बता दें कि उत्तराखंड के लिए जम्मू कश्मीर सीमा से दुःखद खबर आई है। पौड़ी जिले का एक और लाल देश सेवा करते हुए सीमा पर शहीद हो गया है। बताया जा रहा है कि पौड़ी गढ़वाल द्वारीखाल ब्लॉक के ग्राम लंगूरी निवासी अनिल चौहान जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए। आठवीं गढ़वाल राइफल्स में तैनात ग्राम लंगूरी निवासी अनिल चौहान (28) के बलिदान की सूचना मिलते ही पिता व माता बेसुध होकर गिर पड़े। जवान बेटे की मौत की खबर से घर में कोहराम मचा हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गुरुवार तड़के कश्मीर के राजौरी में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान अनिल को गोली लग गई। जिसके बाद उन्होंने दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि अनिल का परिवार सेना से पहले से जुड़ा रहा है। उनके पिता भी फौज से सेवानिवृत्त हैं और बड़ा भाई सुनील चौहान भी सेना में तैनात है। परिवार में उनके माता-पिता, बड़ा भाई व भाभी हैं। बता दे कि अनिल ने राइंका कीर्तिखाल से इंटरमीडिएट किया। बीस वर्ष की आयु में वह सेना में भर्ती हो गए थे।

जानकारी के अनुसार अनील पिछले साल राष्ट्रीय राइफल्स में तीन वर्ष की सेवाएं देने के बाद आठवीं गढ़वाल राइफल्स में आए थे। 28 साल की उम्र में वह देश पर जान न्यौछावर कर गए। उनके घर में उनके माता पिता अब उनकी शादी के संजो रहे थे। लेकिन शादी का सहरा सजने से पहले ही वह मातृभूमि पर कुर्बान हो गए। जवान की शहादत की खबर में प्रदेश शोक की लहर है। बताया जा रहा है कि इस जवान की मई में शादी होनी थी लेकिन इससे पहले ही यह दुखद खबर सामने आई है। 2 दिन पहले ही देहरादून निवासी एक जवान की शहादत हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.