इस्तीफा दे चुके 14 पार्षदों को मनाने में जुटी भाजपा, जानें क्या बोले ये मेयर

नगर निगम रुड़की के 14 पार्षदों ने एक दिन पहले ही दिया पद से इस्तीफा

रुड़की (संवाददाता-दीप रमोला): नगर निगम रुड़की में चुनाव से पहले जमकर घमासान मचा हुआ है। पर्याप्त संख्या होने के बाद भी भाजपा पार्षदों के काम पास नहीं हो पा रहे हैं। इसके लिए भाजपा के ही कुछ पार्षद कांग्रेस और बसपा के पार्षदों से मिलकर कई प्रस्ताव पारित होने में अडंगा लगा रहे हैं।

रुड़की नगर निगम की बोर्ड बैठक के 2 दिन बाद ही भाजपा को बड़ा झटका लगा है नगर निगम के लगभग 14 पार्षदों ने सामूहिक रूप से इस्तीफा दे दिया जिससे आगामी विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका लगा है भाजपा छोड़ने वाले पार्षदों का आरोप है कि भाजपा का बोर्ड होने के बावजूद भी नगर निगम में पार्षदों के क्षेत्र में इस तरह के विकास कार्य नहीं हो पाए जिस तरह से वह चाह रहे थे पार्षदों का आरोप है कि भाजपा का पार्षद बनने के बाद लगातार उनके क्षेत्र की उपेक्षा होती रही और नगर निगम के अधिकारी भाजपा पार्षद ओगी उपेक्षा करते रहे इसलिए आज उन्होंने सामूहिक रूप से पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे ।दिया अब सभी पार्षद कौन सी पार्टी में जाएंगे यह तो आने वाला समय ही बताएगा की भारतीय जनता पार्टी पर पार्षदों के इस्तीफे का कितना प्रभाव पड़ेगा लेकिन इतना जरूर है कि विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा के पार्षदों के इस्तीफे से भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है । वहीं, देवभूमि न्यूज से मेयर रुड़की गौरव गोयल ने कहा कि इस्तीफा देने वाले सभी पार्षदों को मनाने की कोशिश की जा रही है। अभी पार्टी ने उनका इस्तीफा स्वीकार भी नहीं किया है। जल्द ही सभी पार्षदों की घर वापसी की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.