Haridwar Panchayat Election: प्रधान प्रत्याशी पति 10 दिन से बांट रहा था कच्ची, 8 की हो चुकी मौत

0
399
Haridwar Panchayat Election

Uttarakhand News- Dehradun/ Haridwar Bureau: Haridwar Panchayat Election: देहरादून/हरिद्वार, ब्यूरो। उत्तराखंड के हरिद्वार जनपद के पथरी थाना क्षेत्र में 1 दिन पहले पंचायत चुनाव (Haridwar Panchayat Election) में उतरी प्रधान प्रत्याशी के पति ने जहरीली शराब बांटी जिससे अब 8 लोगों की मौत हो चुकी है। आरोपी प्रधान पति प्रत्याशी करीब 10 दिन से गांव में शराब बांट रहा था। शराब का इलाके में विरोध होने के कारण इन्होंने बाकायदा व्हाट्सएप पर ग्रुप बनाए हुए थे।

Haridwar Panchayat Election में हर प्रत्याशी अपने पक्ष में वोट जुटाने के लिए दारू, मुर्गा सअब पार्टियां करवा रहे हैं। आचार संहिता लागू होने के बाद भी बेरोकटोक ऐसे मौत का सामान गांवों में बांटा जा रहा है। इससे पहले दो लोगों की मौत होने के बाद भी प्रधान प्रत्याशी के पति ने शराब बांटने नहीं छोड़ी। बताया जा रहा है कि आरोपी प्रधान पति गांव में ही बिना डिग्री का डॉक्टर बनकर एक दुकान संचालित करता है। वह पहले शहर के एक नामी अस्पताल में कंपाउंडर भी था। कुछ साल पहले भी हरिद्वार और सहारनपुर इलाके में कच्ची शराब से 42 मौतें हुई हैं।

Haridwar Panchayat Election

गांव और आस-पास के इलाके में कोहराम

Haridwar Panchayat Election: वहीं, 8 लोगों की मौत के बाद गांव और आस-पास के इलाके में कोहराम मचा हुआ है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हालांकि मौत का कारण जहरीली शराब नहीं आया है। इस संवेदनशील केस के संबंध में एसडीएम पूरण सिंह राणा ने बताया कि अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शनिवार सुबह लोगों की मौत का मामला सामने आया था। 8 से 10 लोगों की मौत की सूचना मिली थी।

यह भी पढ़ें: Haridwar News: पंचायत चुनावों की कच्ची शराब पीने से 8 लोगों की मौत, प्रशासन में मचा हड़कंप

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Crime News: हाई सिक्योरिटी जेल में कैदियों ने ऐसे छिपाए 60 Mobile और ये तामझाम, जेलर समेत हर कोई हैरान

Haridwar Panchayat Election: 8 लोगों की कच्ची शराब पीने से हुई मौत 

जहरीली शराब से मौत की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर देखा तो पथरी थाना क्षेत्र के फूल गढ़ गांव निवासी बिरमपाल (60) पुत्र बलजीत, अरुण (40) पुत्र चंद्रभान, राजू उर्फ राजबीन (45) पुत्र सेवाराम, अमर पाल (36) पुत्र गोपाल, तेजपाल (55) पुत्र राम सिंह और ईशम (32) पुत्र राजिंदर की मौत हो गई है।

इसके बाद ग्रामीण मृतकों का अंतिम संस्कार की तैयारी कर चुके थे। ट्रैक्टर में लकड़ी आदि सामान भी आ गया था, लेकिन तब तक पुलिस आई और सभी शवों को कब्जे में ले लिया। फिलहाल सभी का बिसरा सुरक्षित रखा गया है। मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है।

Haridwar Panchayat Election

PM रिपोर्ट में 8 लोगों की मौत का कारण कुछ और?

पथरी इलाके के फूलगढ़ गांव में बांटी गई जहरीली कच्ची शराब के पीछे एक प्रधान पद की प्रत्याशी का पति बताया जा रहा है। पुलिस के अनुसार उसने ही तीन-चार महीने पहले ही ये कच्ची शराब तैयार की थी। वह दस दिन से गांव के मतदाताओं को ये जहरीली शराब बांट रहा था। एसडीएम पूरण सिंह राणा ने बताया कि अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है।

पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर कच्ची शराब का बड़ा जखीरा जमीन से भी निकाल लिया है। वहीं, आरोपी प्रधान पति प्रत्याशी ने बताया कि उसने कच्ची शराब बनाने में परंपरागत तौर-तरीके प्रयोग किए। जल्द आरोपी प्रत्याशी पति को पुलिस गिरफ्तार कर सकती है।

Haridwar Panchayat Election

Haridwar Panchayat Election: जहरीली शराब से मौत का मामला 1 दिन पहले सामने आने के बाद पुलिस ने प्रधान प्रत्याशियों के पतियों को हिरासत में लेना शुरू किया। कई प्रत्याशी पति पुलिस के सामने आने की बजाय काफी देर बाद सामने आए। बारी-बारी से पूछताछ के बाद एक प्रत्याशी पति आखिर टूट गया और उसने सारी कहानी पुलिस को बता दी। दूसरी ओर डीएम विनय शंकर पांडेय ने इस मामले में मजिस्ट्रीयल जांच बैठा दी है।