खतरनाक रंजिश: फैक्ट्री कर्मचारी के प्राइवेट पार्ट में डाल दी एयर प्रेसर गन, फटी पेट की आंत

खतरनाक रंजिश: फैक्ट्री कर्मचारी के प्राइवेट पार्ट डाल दी एयर प्रेसर गन, फटी पेट की आंत

रुद्रपुर, ब्यूरो। उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जनपद में कई हैरान करने वाली वारदातें सामने आ रही हैं। पंतनगर की एक फैक्ट्री में काम करने वाले कर्मचारी के प्राइवेट पार्ट में पहले की रंजिश के चलते ऐसा बदला लिया कि हर कोई सुन कर हैरान है। फैक्ट्री कर्मचारी ने अपने ही सहयोगी कर्मचारी के प्राइवेट पार्ट में एयर प्रेशर गन डाल दिया। इससे फैक्ट्री कर्मचारी के पेट की आंत फट गई। यही नहीं फैक्ट्री प्रबंधन ने आरोपी युवक को नौकरी से निकाल दिया और पीड़ित कर्मचारी को अस्पताल में ले जाने की बजाय उसके भाई के आनंद विहार ट्रांजिट कैंप रुद्रपुर स्थित घर पर छोड़ दिया। पीड़ित के भाई सतेंद्र वर्मा ने  पुलिस से आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। थानाध्यक्ष पंतनगर राजेंद्र सिंह डांगी ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले के थाना दूयरिया के गांव नऊवा नगला हाल निवास आनंद विहार ट्रांजिट कैंप रुद्रपुर के सतेंद्र वर्मा ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसका भाई विजय कुमार पंतनगर सेक्टर 9 में प्रफेक्ट डायनामिक कंपनी में काम करता है। कंपनी में ही काम करने वाले दिवारी थाना बिसलपुर, पीलीभीत निवासी मुनेंद्र पाल पुत्र परमेश्वरी दयाल और उसके बीच होली के त्योहार से लगभग 10-12 दिन पहले लेनदेन को लेकर विवाद और हाथापाई हुई थी। इस दौरान मुनेंद्र ने विजय कुमार को धमकी दी थी।

उन्होंने बताया कि 30 मई की सुबह छह बजे उसका भाई कंपनी में काम कर रहा था। इस दौरान मुनेंद्र पाल ने उसके भाई को जान से मारने के इरादे से उसके प्राइवेट पार्ट में कंपनी की एयर प्रेशर गन डाल दी। जिससे उसके भाई के पेट की आंत फट गई। यह देख कंपनी के लोग उसके भाई को अस्पताल न ले जाकर आनंद विहार स्थित कमरे पर छोड़ गए और मुनेंद्र पाल को कंपनी ने नौकरी से ही निकाल दिया। इसके बाद सतेंद्र वर्मा ने अपने भाई को एक अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। सतेंद्र ने पुलिस से आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। थानाध्यक्ष पंतनगर राजेंद्र सिंह डांगी ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। अब देखना होगा कि पुलिस आरोपी को कब तक सलाखों के पीछे पहुंचाती है।