मंदिर से पूजा कर लौट रहे परिवार की कार खाई में गिरी, चार की मौत, कार के उड़े परखच्चे

0
401
मंदिर से पूजा कर लौट रहे परिवार की कार खाई में गिरी, चार की मौत, कार के उड़े परखच्चे

मंदिर से पूजा कर लौट रहे परिवार की कार खाई में गिरी, चार की मौत, कार के उड़े परखच्चे

  • पूजा अर्चना के बाद लौट रहे थे वापस, पिथौगराढ़ में हो गए हादसे का शिकार

पिथौरागढ़, ब्यूरो। उत्तराखंड में आज ही एक और दुःखद हादसे की खबर सामने आ रही है। बागेश्वर निवासी एक परिवार पूजा के लिए तीन साल बाद गांव आया था और मंदिर में पूजा करने के बाद वापस लौटते वक्त पिथौरागढ़ जनपद में परिवार का वाहन खाई में जा गिरा जिससे चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है। हादसा पिथौरागढ़ जिले में पमतोड़ी के पास हुआ। कार करीब 100 फीट गहरी खाई में गिरी जिससे तीन महिलाओं और एक पुरुष की मौत हो गई है। इनमें से एक घायल ने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ा है।

गांव में पूजा में सम्मिलित होने के लिए तीन साल बाद चन्दन सिंह बसेड़ा अपने भाई और उसके परिवार के साथ आए हुए थे। एक दिन पहले शनिवार को उन्होंने मलयनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की और आज रविवार को साता (चैबाटी) में जगतमल मन्दिर में पूजा अर्चना कर परिवार को छोड़ने सभी लोग बागेश्वर जा रहे थे। तभी रास्ते में उनका वाहन हादसे का शिकार हो गया। वाहन खाई में गिरने की सूचना आस-पास के लोगों ने पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और खाई में उतकर रेक्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। खाई में गिरी कार के परखच्चे उड़ गए थे। हादसे में चंदन सिंह बसेड़ा की पत्नी तुलसी देवी, छोटा भाई गोविंद की पत्नी आशा और उसकी साली तारा देवी की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि उनकी माता देवकी देवी का इलाज के दौरान हॉस्पिटल में निधन हो गया।

बता दें कि एक ही परिवार के लोगों का यह वाहन पिथौरागढ़ जिले में पमतोड़ी के पास 100 फीट गहरी खाई में जा गिरा। इस हादसे में तीन लोगों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया और एक की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हुई है। पुलिस ने सभी शवों को कब्जे में लेकर मोर्चरी में रखवा दिया है। रिटायर्ड शिक्षक चंदन सिंह बसेड़ा (61) अपने परिवार के साथ नैनीताल जिले के हल्द्वानी में रहते हैं। हादसे के बाद पूरे गांव और मृतकों के परिजनों में शोक की लहर है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।