Earthquake: भारत-म्यांमार सीमा पर भूकंप के तेज झटकेयहाँ भी महसूस किए गए झटके।

यूरो-मेडिटेरेनियन सीस्मोलॉजिकल सेंटर यानी EMSC के अनुसार, शुक्रवार यानी आज तड़के म्यांमार-भारत सीमा पर 6.3 तीव्रता का जोरदार भूकंप आया। इसका असर भारत के 2 राज्यों में भी देखा गया जहां भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। ये झटके पश्चिम बंगाल, और त्रिपुरा में महसूस किए गए हैं। जानकारी के अनुसार, गोवाहाटी, कोलकाता, जलपाईगु़ड़ी और अगरतला में भी लोगों ने भूकंप के तेज झटके महसूस किए हैं। 

Earthquake: भारत-म्यांमार सीमा के साथ ही इन इलाकों में भी महसूस किए गए भूकंप के झटके

ईएमएससी द्वारा पोस्ट किए गए ट्वीट अनुसार, कोलकाता और गुवाहाटी के अधिकांश हिस्सों में भूकंप के लगभग 30 सेकंड के लिए एक “लंबा झटका” महसूस किया गया। भारत और बांग्लादेश के कुछ हिस्सों में भूकंप के प्रभावों को महसूस करने वाले लोगों ने झटके की रिपोर्ट करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया और कई ट्वीट तथा पोस्ट किए।

भूकंप का समय

नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, 6.3 की तीव्रता वाला भूकंप सुबह 5:15 बजे आया। देश में भूकंप की गतिविधियों पर नजर रखने वाली केंद्रीय नोडल एजेंसी ने यह भी कहा कि इसका केंद्र मिजोरम में थेनजोल से 12 किमी और 73 किमी दक्षिण-पूर्व की गहराई में था।

भूकंप आने की वजह

भूकंप के आने की मुख्य वजह धरती के अंदर प्लेटों का टकरना होता है। धरती के अंदर सात प्लेट्स होती हैं जो लगातार घूमती रहती हैं। जब ये प्लेटें किसी जगह पर आपस में टकराती हैं, तो वहां फॉल्ट लाइन जोन बन जाता है और सतह के कोने मुड़ जाते हैं। सतह के कोने मुड़ने की वजह से वहां दबाव बनता है और प्लेट्स टूटने लगती हैं। वहीं प्लेट्स के टूटने से अंदर की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है, जिसकी वजह से धरती हिलने लगती है और इसे भूकंप नाम दिया जाता है।

https://devbhoominews.com Follow us on Facebook at https://www.facebook.com/devbhoominew…. Don’t forget to subscribe to our channel https://www.youtube.com/devbhoominews…SHOW LESS

Leave your comment

Your email address will not be published.