जाट दुल्हा मय बारात मचाते रहा हुड़दंग, मंच पर किसी और की हो गई दुल्हन; बैरंग लौटी बारात

0
256

नई दिल्ली/चुरू, ब्यूरो। दुल्हे और उसके दोस्तों के हुड़दंग से गुस्साई दुल्हन और उसके परिजनों ने सात फेरों से चंद घंटे पहले ही दुल्हन की शादी दूसरे युवक से करवा दी। हरियाणा से राजस्थान करीब 150 बारातियों को लेकर पहुंचा अनिल जाट दोस्तों के साथ देर रात दो बजे तक हुड़दंग मचाता रहा। इससे परेशान दुल्हन और उसके परिजनों से इतनी जल्दी फैसला लिया कि अब दुल्हा पुलिस से न्याय दिलाने की गुहार लगा रहा है।

जानकारी के अनुसार यह हैरान करने वाला मामला राजस्थान के चुरू जनपद के राजगढ़ तहसील के चेलाना गांव का है। यहां विगत 15 मई को हरियाणा के सिवानी वार्ड संख्या 10 निवासी अनिल जाट पुत्र महावीर जाट बारात लेकर चेलाना गांव में दुल्हन मंजू को लेने आया था।

dulha 00

बारात करीब नौ बजे दुल्हन के गांव पहुंची, लेकिन घर पर बारात 2 बजे रात तक भी नहीं पहुंची। 150 बारातियों ने गाजे-बाजे पर नाच-गाकर खूब हुड़दंग मचाया। देर रात तक भी जब भी बाराती नहीं माने तो दुल्हन पक्ष ने जब बारातियों को हुड़दंग बंद कर रस्में पूरी करने को कहा। बारातियों ने एक न मानी और झगड़ा करने लगे। युवती के मायके वालों के अनुसार 1ः15 बजे का वक्त फेरों का था जो निकल गया। इसके बाद दुल्हन और उसके परिजनों ने शादी किसी दसूरे लड़के से कराने का फैसला लिया। रात में उसी मंडप में दुल्हन के परिजनों ने दुल्हन की शादी अन्य लड़के से कर दी।

जब बाराती रात 2 बजे दुल्हन के घर बारात लेकर पहुंचे तो उनकी आंखें फटी की फटी रह गईं। दुल्हन की शादी किसी दूसरे युवक से हो चुकी थी। इसके बाद दूल्हे को बारात समेत बैरंग लौटना पड़ा। अब दुल्हा सुनील और उसके रिश्तेदार राजगढ थाने पहुंचे हैं और न्याय की गुहार लगा रहे हैं। दूसरी ओर लड़की वालों का कहना है कि सात फेरों की रस्म में ही जब इतनी लापरवाही की गई है तो आगे ये लोग क्यों रिश्ता निभा पायेंगे। दूसरी ओर पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाइश दी। इसके बाद दोनों पक्षों ने पारिवारिक कारणों का हवाला देकर शादी कैंसिल करने की बात पुलिस को शपथ पत्र बनाकर सामने रखी है।

जाट दुल्हा मय बारात मचाते रहा हुड़दंग, मंच पर किसी और की हो गई दुल्हन; बैरंग लौटी बारात