मुंबई पुलिस ने कोटद्वार से एक युवक को दबोचा, मामले में 1 दिन पहले एक युवती भी हो चुकी है गिरफ्तार

देहरादून/कोटद्वार (संवाददाता): बुली बाई एप मामले में मुंबई पुलिस ने एक और आरोपी को अरेस्ट किया है एक दिन पहले ही मुंबई पुलिस ने रुद्रपुर से एक युवती को इस मामले में गिरफ्तार किया था। पौड़ी जिले के कोटद्वार देर रात पहुंची मुंबई पुलिस ने यहां से एक युवक को गिरफ्तार किया है। मुंबई पुलिस ने कोटद्वार के नींबूचौड़ इलाके से इस युवक को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि ये युवक दिल्ली के एक कॉलेज में पढ़ता है। 21 साल के इस युवक का नाम मयंक रावत बताया जा रहा है।

कोटद्वार के नींबूचौड़ इलाके से 21 साल के मयंक रावत को गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि मुंबई पुलिस की गिरफ्त में आए मयंक रावत दिल्ली के कॉलेज में पढ़ता है। फिलहाल पुलिस गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ कर आगे की कार्रवाई में जुटी है।

कोतवाली रुद्रपुर ने एक दिन पहले जानकारी दी कि इलाके के आदर्श कॉलोनी वार्ड नंबर 14 निवासी कुमारी श्वेता सिंह पुत्री आनन्त पाल उम्र 18 वर्ष को मुंबई पुलिस द्वारा वेस्ट साइबर थाना में पंजीकृत अभियोग स0 01/2022 धारा 153 A,153B 295A,509, 500,354D ipc 67 IT Act बनाम अज्ञात ट्विटर धारक में हिरासत में लेकर उसका ट्रांज़िट रिमांड लेकर कोतवाली रुद्रपुर मे आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। ज्ञात हुआ है कि दिनांक 01/01/ 2021को उक्त द्वारा मुस्लिम महिला के सम्बन्ध में आपत्तिजनक टिपड़ी व पोस्ट ट्विटर(बुली बाई एप्प) के माध्यम से पोस्ट की गई थी।
उक्त संदर्भ में लड़की से की गई पूछताछ से ज्ञात हुआ कि लड़की के पिता आनंदपाल सिंह Acamai सोलर नामक कंपनी रुद्रपुर में कार्यरत थे। जिनकी मई 2021 में कोरोना के कारण मृत्यु हो गई है तथा माता का देहांत वर्ष 2011 में कैंसर से हो गया था। इसके घर में तीन बहने इसमें मनीषा बीकॉम तृतीय वर्ष वर्ष कॉलेज रुद्रपुर, श्वेता सिंह स्वयं रेनबो स्कूल से इंटर पास करके परीक्षा की तैयारी कर रही है तथा छोटी बहन योगिता सिंह नवोदय में कक्षा दसवीं में अध्यनरत है वह छोटा भाई यशपाल रेनबो स्कूल में कक्षा 8 में अध्यनरत है। इनके घर का खर्चा वात्सल्य योजना के तहत ₹3000 तथा acamay कंपनी से लगभग ₹10000 इन्हें मिलता है। ज्ञात हुआ कि श्वेता सिंह ट्विटर में नेपाली लड़के Giyou की दोस्ती जिसके द्वारा अपना टि्वटर अकाउंट छोड़ने की बात कहकर श्वेता सिंह का फेक अकाउंट (doc.acct) बनाने को कहा गया तथा उसका लॉगइन आईडी मांगा गया था जिसके माध्यम से श्वेता सिंह के infinitude07 ट्विटर अकाउंट को परिवर्तित कर ZATTkhalsa7 नाम से नया अकाउंट बना दिया गया ।उक्त अकाउंट के माध्यम से Bulli bai app मैं मुस्लिम महिलाओं की बोली की कार्रवाई की गई।उक्त प्रकरण में बैंगलोर से विशाल (उम्र 21 वर्ष) नामक व्यक्ति को भी हिरासत में लिया गया है।

Leave your comment

Your email address will not be published.