Friday, August 19, 2022
spot_img
Homeदेहरादूनभाजपा को यूपी में एक और झटका, अब ये कैबिनेट मंत्री सपा...

भाजपा को यूपी में एक और झटका, अब ये कैबिनेट मंत्री सपा में हुए शामिल

देहरादून/नई दिल्ली, ब्यूरो। विधानसभा चुनाव से पहले कई पार्टियों के नेता इधर से उधर पलायन कर रहे हैं। देश के सबसे बड़े राज्य यूपी की बात करें तो यहां भाजपा को बड़ा झटका लगा है। भाजपा सरकार के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने पार्टी के साथ ही मंत्रीमंडल से इस्तीफा देते हुए सपा का दामन थाम लिया है। इसके अलावा दो और विधायक भी सपा में शामिल हो रहे हैं। कई नेता चुनाव से पहले अपने अपने समीकरण देखते हुए पार्टियों से पाला बदल रहे हैं। बगावत करें या पलायन लेकिन हर कोई अपने हार जीत के फार्मूले को मजबूत करने के लिए पाला बदल रहे हैं। कई नेताओं को टिकट कटने का डर तो कई अपने करीबियों को टिकट दिलाने में असफल रहने पर भी नेता दल बदली कर रहे हैं।

इस संबंध में सपा के मुखिया अखिलेश यादव ने सोशल मीडिया में बताया। मंत्री मौर्य के इस्तीफे के बाद उन्होंने एक फोटो भी शेयर की है। अखिलेश यादव ने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखी, ‘‘सामाजिक न्याय और समता-समानता की लड़ाई लड़ने वाले लोकप्रिय नेता स्वामी प्रसाद मौर्य और उनके साथ आने वाले सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समर्थकों का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन।’’

शाहजहांपुर के तिलहर से विधायक रोशन लाल ने भी भाजपा से इस्तीफा दे दिया है। सामूहिक दुष्कर्म के मामले में बेटे के साथ आरोपित रोशन लाल वर्मा शाहजहांपुर की तिलहर सीट से भाजपा विधायक हैं। वहीं, भाजपा के मंत्री मौर्य ने अपने इस्तीफे में दलितों, पिछड़ों, किसानों बेरोजगार नौजवानों एवं छोटे- लघु एवं मध्यम श्रेणी के व्यापारियों की घोर उपेक्षात्मक रवैये को अपने इस्तीफे की वजह बताया है। मौर्य बसपा के रास्ते भाजपा में होते हुए सपा में पहुंचे हैं। योगी सरकार में मौर्य श्रम एवं सेवायोजन व समन्वय मंत्री थे। कहीं कहीं इसे नाराजगी कहा जाए या फिर कुछ और? क्योंकि विधानसभा चुनाव की आहट के बाद ही नेताओं की अदला-बदली का दौर लगातार जारी है। हर दल के नेताओं में खलबली मची है। ऐसे में बगावत और भीतरघात का चुनाव के नतीजों पर असर देखने को मिलेगा।

uttarakhand

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments