Friday, August 19, 2022
spot_img
Homeनेशनलस्वच्छ सर्वेक्षण 2021: विजयता घोषित। इस शहर को मिला स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार...

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021: विजयता घोषित। इस शहर को मिला स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2021।DEVBHOOMI NEWS।

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021: विजयता, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का महत्वाकांक्षी स्वच्छता मिशन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी स्वच्छता मिशन के तहत हर वर्ष कराए जाने वाले स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के नतीजे आज घोषित कर दिए गए हैं। इस सर्वे में देश के करीब 4000 से ज्यादा शहरों को शामिल किया गया है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा इंदौर शहर को किया पुरस्कृत

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021: विजयता की घोषणा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा आज की गई । राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा स्वच्छ शहरों को स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2021 प्रदान किए गए हैं। केंद्र सरकार द्वारा इंदौर को लगातार 5वीं बार भारत का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया है। सूरत को दूसरा स्थान मिला है। मप्र का इंदौर पहले स्थान पर रहा तो राष्ट्रपति कोविन्द ने गुजरात के सूरत और आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा को देश के दूसरे और तीसरे सबसे स्वच्छ शहर बनने पर सम्मानित किया। वहीं, केंद्र सरकार के वार्षिक स्वच्छता सर्वेक्षण में सबसे स्वच्छ गंगा शहर की श्रेणी में यूपी के वाराणसी को पहला स्थान मिला है।

स्वच्छता मिशन पर इस स्थान पर रहा उत्तराखंड का देहरादून

वहीं शिक्षा के हब बन चुके दून से हमेशा बेहतर स्वच्छता की उम्मीद की जाती है। हालांकि, यह और बात है कि देश के स्वच्छ शहरों की रैकिंग में दून अभी तक अपेक्षा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाया है। कभी नगर निगम के स्तर पर तो कभी नागरिकों के स्तर पर कमी रह गई। इस दफा नगर निगम ने व्यवस्थाओं में काफी सुधार किया। यही वजह रही कि दून ने स्वच्छता रैंकिंग में एक लंबी छलांग लगाई है और 100 स्वच्छ शहरों में शामिल हो गया है। इस बार शहर को 82वीं रैंक मिली है। इससे पहले दून 124वीं रैंक पर था। वहीं, राज्य की बात करें तो उत्तराखंड में दून पहले स्थान पर है।

https://devbhoominews.com Follow us on Facebook at https://www.facebook.com/devbhoominew…. Don’t forget to subscribe to our channel https://www.youtube.com/channel/UCNWx…

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments