आखिर क्यों ‘बाहुबली’ की मां चाहती थीं बेटा फिल्मों में न जाए |

#Prabhas #Birthday #Bollywood
किस्सागोई में आपका स्वागत है, इस सेक्शन में हम आपको सुनाएंगे सिनेमाई हस्तियों के किस्से। उनकी जिंदगी कैसे स्टार बनी वो किस्से। आज बात प्रभास की। वही प्रभास जब बाहुबली में आए, तो सिर्फ देश में ही नहीं दुनियाभर में छा गए। हर कोई बाहुबली की बात कर रहा था। खबरें ट्रेंड हो रही थीं। हर कोई प्रभास के बारे में जानना चाहता था।
23 अक्टूबर 1979 को चेन्नई में प्रभास का जन्म हुआ। नाम रखा गया ‘वेंकट सत्यनारायण प्रभास राजू उप्पलपट्टी’। जी ये उनका असली नाम है। प्रभास एक फिल्मी परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनके पिता सूर्यनारायण राजू प्रोड्यूसर हैं। वहीं उनके चाचा कृष्णम राजू एक टॉलीवुड स्टार रहे हैं, लेकिन प्रभास की मां शिवकुमारी चाहती थीं कि बेटा फिल्मों में न जाए, एक्टिंग के चक्कर में न पड़े, बल्कि पढ़ लिखकर कोई अच्छी सी नौकरी कर ले। मां की ख्वाहिश थी कि बेटा घर खरीदकर उसमें खुशी-खुशी रहे और अपनी जिंदगी को खूबसूरत बनाए।

Leave your comment

Your email address will not be published.