Wed. Apr 1st, 2020

ना मशाल, ना मशाल वाहक और ना ही दर्शक, कुछ इस तरह दिखा ओलंपिक मशाल रिले

1 min read

तोक्यो। तोक्यो ओलंपिक मशाल रिले गुरूवार को फुकुशिमा से शुरू होगी लेकिन इसमें ना तो मशाल होगी, ना मशालवाहक और ना ही दर्शक।यूनान से 12 मार्च को ओलंपिक ज्योति यहां पहुंच गई है। इसे लालटेन में एक वाहन पर रखकर घुमाया जायेगा।कोविड 19 के चलते सड़कें सूनी पड़ी है क्योंकि लोगों से सामाजिक दूरी बनाये रखने के लिये कहा गया है। राष्ट्रीय प्रसारक एनएचके और जापान की समाचार एजेंसी क्योदो ने यह जानकारी दी।आयोजन समिति के सीईओ तोशिरो मुतो ने कहा ,‘‘ काश कम से कम एक धावक मशाल रिले में साथ रह पाता।’’ इस बीच तोक्यो ओलंपिक के स्थगित होने की पूरी संभावना बन गईहै। दुनिया भर से खेल महासंघ , मौजूदा और पूर्व खिलाड़ी इसके लिये दबाव बना रहे हैं जबकि अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने चार सप्ताह के भीतर फैसला लेने की घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *