Wed. Apr 1st, 2020

हरिद्वार में नकली दवा फैक्ट्री संचालकों के ठिकाने पर छापे

1 min read

हरिद्वार। चुड़ियाला में पकड़ी गई नकली दवा फैक्ट्री संचालकों की तलाश में भगवानपुर थाना पुलिस ने बीते रोज उनके कई संभावित ठिकानों पर दबिश दी। आरोपित पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सके। मामले में भाजपा नेता के भाई पराग त्यागी, दिनेश चंद्र एवं बहादर हयात के विरुद्ध भगवानपुर थाने में नकली दवा बनाने सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज है। भगवानपुर थानाध्यक्ष संजीव थपलियाल ने बताया कि आरोपितों की तलाश जारी है। उनके ठिकानों पर पुलिस दबिश दे रही है। जल्द ही आरोपितों को पकड़ लिया जाएगा।वहीं दूसरी ओर औषधि नियंत्रण विभाग की टीम ने भगवानपुर में डेरा डाला हुआ है। विभाग को कई और महत्वपूर्ण जानकारी मिली है। मामले से जुड़े अन्य आरोपितों को भी घेरने की तैयारी है। हालांकि अभी तक इस मामले में केवल तीन लोगों के ही नाम सामने आ सके हैं। विभागीय अधिकारियों के अनुसार अन्य कई और लोग भी इस धंधे में जुड़े थे। उनको चिह्नित किया जा रहा है। पुलिस के साथ ही औषधि नियंत्रण विभाग उन पर शिकंजा कसने की तैयारी में हैं। जिसके चलते औषधि नियंत्रण विभाग की टीम ने भगवानपुर क्षेत्र में डेरा डाला हुआ है। उच्चाधिकारी इस पूरे मामले में नजर बनाए हुए हैं।  नकली दवा बनाने के मामले में इससे पहले भी कई बार सामने आ चुके हैं। इससे प्रदेश की बदनामी हो रही है। जिसके चलते शासन स्तर पर इस मामले में कड़ा संज्ञान लिया गया है। अधिकारियों की ओर सख्त निर्देश जारी कर कहा गया है कि नकली दवाओं का धंधा करने वाले किसी भी व्यक्ति को बख्शा न जाए। उनको चिह्नित कर सलाखों के पीछे डाला जाए। शासन स्तर पर इन कड़े निर्देशों के बाद औषधि नियंत्रण विभाग और पुलिस संयुक्त रूप से ऐसे लोगों के खिलाफ अभियान शुरू करने जा रही है।नकली दवा फैक्ट्री का पर्दाफाश करने के अलावा भी औषधि नियंत्रण विभाग नकली दवाओं के कारोबार से जुड़े एक बड़े रैकेट का भंडाफोड़ करने की फिराक में था। इसके लिए टीम ने पिछले दस दिनों से फिल्डिंग लगाई हुई थी। लेकिन, इसी बीच नकली दवा फैक्ट्री की जानकारी मिल जाने के चलते विभाग ने पहले इसी का ही भंडाफोड़ कर दिया। हालांकि उस बड़े रैकेट से जुड़ी सभी जानकारी विभागीय अधिकारी जुटा रहे हैं। फैक्ट्री जिस तरह से संचालित हो रही थी। उसे देखते हुए विभाग की यह बड़ी कामयाबी है, हालांकि अभी भी विभाग का पूरा फोकस उसी बड़े रैकेट पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *