Mon. Feb 24th, 2020

विनोद मेहरा से की थी रेखा ने पहली शादी! विदा होकर ससुराल आयी तो सास ने किया था चप्पल से स्वागत

1 min read

बॉलीवुड में विनोद मेहरा ने अपनी लाजवाब एक्टिंग से सालों तक दर्शकों के दिलों पर राज किया। विनोद मेहरा की आज 75वीं जयंती है। पंजाब के अमृतसर में 13 फरवरी 1945 में जन्में विनोद मेहरा 45 साल की उम्र में ही दुनिया को हमेशा के लिए छोड़कर चले गये। विनोद मेहरा सिनेमा के सफल कलाकारों में से एक थे। उन्होंने ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत 1971 में फिल्म ‘ऐलान’ से की थी। ऐलान की सफलता के बाद विनोद मेहरा ने लगातार फिल्में की और एक दशक में उन्होंने 100 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। विनोद मेहरा की एक फिल्म ऐसी थी जो उनकी मौत के तीन साल बाद रिलीज हुआ। उस फिल्म का नाम ‘गुरुदेव’ था। इतनी कम उम्र में विनोद मेहरा ने एक्टिंग के साथ-साथ कई फिल्मों का निर्देशन और निर्माण भी किया। विनोद मेहरा की जिंदगी से कई किस्से जुड़े। विनोद मेहरा लुक में काफी स्मार्ट थे और साथ-साथ टेलेंटिड भी थे। उनपर इंडस्ट्री की कई लड़कियों का दिल आ गया था लेकिन विनोद मेहरा के सपनों की रानी बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री रेखा थी। बॉलीवुड गलियारों में रेखा की प्रेम कहानी के तमाम किस्से हैं लेकिन रेखा का पहला प्यार विनोद मेहरा थे। कहते हैं रेखा और विनोद मेहरा की शादी हो चुकी थी लेकिन विनोद का परिवार रेखा को बिलकुल पसंद नहीं करता था। वह रेखा को अपनी आंखों के सापने देखना भी पसंद नहीं करता था। खास तौक पर विनोद मेहरा की मां को रेखा रत्ती भर भी पसंद नहीं थी। बॉलीवुड के पुराने किस्सों को उठा कर देखें तों उनमें लिखा हैं कि जब रेखा और विनोद मेहरा का प्यार परवान चढ़ गया था तो रेखा और विनोद ने गुपचुप शादी कर ली थी और शादी करके जब रेखा विनोद के घर में गई तो विनोद की मां ने रेखा को घर की दहलीज तक पार नहीं करने दी और वापस अपने घर जाने के लिए कहा। विनोद के लाख कहने पर भी उनकी मां नहीं मानी। रेखा से विनोद भी बेहद प्यार करते थे लेकिन इस प्यार के कारण एक घर बिखर रहा था। अब मां और प्रेमिका के प्यार में विनोद बट गये थे। वह किसी को छोड़ना नहीं चाहते थे। रेखा के साथ मां ने जिस तरह का बर्ताव किया था उसे लेकर रेखा और विनोद के बीच भी तनाव हो रहा था। मां बिलकुल भी रेखा को अपने घर की बहु बनाने के लिए तैयार नहीं थी। धीरे-धीरे रेखा और विनोद का रिश्ता खत्म हो गया।एक रिपार्ट के अनुसार ये कहा जाता है कि जह रेखा और विनोद शादी करके मुंबई पहुंचे थे तो रेखा ने जैसे ही विनोद की मां के पैर छूने चाहे तो मां ने रेखा को पीछे कर दिया और गुस्से में वह रेखा को चप्पल से मारने जा रही थी तभी विनोद मे मां को ऐसा करने से रोक दिया। ये बात रेखा का काफी बुरी लगी थी। विनोद और रेखा के बीच इस बात को लेकर काफी बहस होती थी। रेखा और विनोद मेहरा की जोड़ी को फिल्मों में खूब पसंद किया जाता था। दोनों ने साथ में अनजाना सफर, बिंदिया चमकेगी जैसी कई सुपरहिट फिल्में की। बॉलीवुड इडस्ट्री में विनोद मेहरा अपनी तीन शादियों के लिए जाने जातें थे। रेखा से अलग होने के बाद विनोद मेहरा ने 1988 में किरण नाम की लड़की से शादी की थी। किरण और विनोद के दो बच्चे हुए- बेटा रोहन और बेटी सोनिया। ये दोनों ही आज इंडस्ट्री में सक्रिय हैं. शादी के दो साल बाद यानि साल 1990 में महज 45 साल की उम्र में विनोद मेहरा का निधन हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *