Sat. Jan 25th, 2020

गलत इंजेक्शन से नवजात की मौत पर अस्पताल में हंगामा

1 min read

रानीखेत (अल्मोड़ा): नवजात बच्ची की मौत पर नागरिक चिकित्सालय में बवाल हो गया। तीमारदारों ने चिकित्सकों पर इलाज में लापरवाही और गलत इंजेक्शन का आरोप लगा हंगामा काटा। परिजनों ने आरोप लगाया कि पहली संतान के समय जच्चा का ब्लड ग्रुप बी निगेटिव था लेकिन इस बार बी पॉजिटिव ग्रुप के आधार पर डॉक्टरों ने नवजात को भी गलत इंजेक्शन लगा दिया। इससे उसकी जान चली गई। सीएमओ ने पूरे मामले में जांच कराने की बात कही।मामला शुक्रवार शाम का है। मकड़ों गांव (ताड़ीखेत ब्लॉक) निवासी लक्ष्मण सिंह रावत की पत्नी पूजा देवी को प्रसव पीड़ा पर नागरिक चिकित्सालय लाया गया। सायं 4:15 बजे पर पूजा ने कन्या को जन्म दिया। नवजात कमजोर थी और चिकित्सकों ने उसे वार्मर पर रखा। 5:20 बजे बच्ची ने दम तोड़ दिया। पता लगते ही तीमारदार भड़क उठे। ग्रामीणों के साथ अस्पताल पहुंचे ब्लॉक प्रमुख हीरा सिंह रावत की चिकित्सकों से तीखी तकरार हुई। प्रमुख ने कहा कि जब पूजा देवी ने अपने पहले बच्चे को इसी नागरिक चिकित्सालय में जन्म दिया तब उसका ब्लड ग्रुप बी पॉजिटिव था। दूसरे बच्चे के जन्म के वक्त लैब रिपोर्ट में उसका ब्लड ग्रुप बी-निगेटिव दर्शाया गया। प्रसूता के पति लक्ष्मण ने आरोप लगाया कि ब्लड ग्रुप बी नेगेटिव के आधार पर नवजात को इंजेक्शन लगा दिए जाने से वह दम तोड़ गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *